पश्चिमी चम्पारणबिहार

स्टाम्प ड्यूटी मद के 8.98 करोड़ से विकास कार्य सहित 9 पर एजेंडे पर सशक्त स्थाई समिति की मोहर।

बेतिया(प.च)।

बेतिया:नगर परिषद् की सभापति गरिमा देवी सिकारिया की अध्यक्षता में शनिवार को सशक्त समिति की बैठक आहुत की गयी। बैठक का संचालन कार्यपालक पदाधिकारी विजय कुमार उपाध्याय ने किया।

बैठक की अध्यक्षता कर रहीं सभापति गरिमा देवी सिकारिया ने कहा कि कोरोना के संक्रमण काल में जिला मुख्यालय के अपने नगर परिषद में सजगता बढ़ाने के साथ राहत व बचाव के कार्य एक बार फिर तेज करने की जरूरत बढ़ गयी है। उन्होंने सशक्त समिति सदस्यों के बीच स्टाम्प ड्यूटी मद से नप प्रशासन को प्राप्त 8.98 करोड़ की राशि से वार्डवार विकास योजनाओं के चयन पर भी जोर दिया। इसके साथ ही विभिन्न कोटि के नगर परिषद कर्मचारियों के पक्ष में अनेक स्तर से प्राप्त मांग व ज्ञापन पर भी बैठक में विचार किया गया। सभी उपस्थित सदस्यों ने कोरोना काल में नपकर्मियों विशेतः सफाईकर्मियों के योगदान को महत्वपूर्ण बताया। इसके साथ ही कोरोना संक्रमण के दुबारा बढ़ते खतरे को ले जन जागरूकता, सेनेटाइजिंग, मॉस्क वितरण पर बैठक में जोर दिया गया। इसके साथ ही
नगर परिषद क्षेत्र में मच्छरों के प्रकोप के रोकथाम के लिये वार्डवार फॉगिंग कराने पर भी विचार के बाद सहमति बनी।
इनके अलावें कोरोनाकाल में बंदोबस्ती से वंचित सैरातों की बंदोबस्ती पर विचार तथा इन सैरातों की हो रही विभागीय वसूली की समीक्षा की गई।
स्वयं सहायता समूह द्वारा उत्पादित वस्तुओं के विक्रय हेतु कॉमन सेल सेंटर का निर्माण करने पर विचार किया गया। इसके अलावें नजरबाग पार्क एवं ऑफिसर्स कॉलोनी पार्क में ओपन जिम का निर्माण कराने पर विचार एवं दीवारों, पाथ-वे एवं झूलों की मरम्मती कराने के साथ शहर के मुख्य हिस्सों में फ्री वाईफाई जोन को विकसित करने (अधिष्ठापन) पर विचार एवं निर्णय पर सशक्त समिति सदस्यों ने सर्व सहमति से मुंहर लगा दी। इसके अलावें नगर परिषद क्षेत्रान्तर्गत होल्डिंग टैक्स वसूली की धीमी गति को बढ़ाने के साथ वसूली के विकल्पों पर भी विचार किया गया। बैठक की समाप्ति के बाद सभापति श्रीमती सिकारिया ने बताया कि सशक्त समिति के माननीय सदस्यगण के द्वारा सर्व सहमति से निर्णय लिया गया कि बैठक में विचारणीय रहे सभी 9 बिंदुओं पर 2 दिसंबर को नप बोर्ड की बैठक आहुत कर के विस्तार से चर्चा की जाय। बैठक में रमाकांत महतो, शहनाज हुसैन, दीपेंद्र कुमार इत्यादि सदस्यों के अलावा प्रधान सहायक रमन कुमार, संजीव कुमार, जुलुम साह इत्यादि उपस्थित रहे एवं अपने विचार व्यक्त किये।